ट्रेडिंग में सपोर्ट और रेजिस्टेंस क्या होता है |Why support and Resistance is Important for Beginners|

हर कोई शेयर बाजार से पैसा कमाना चाहता है लेकिन अगर आप अपने लॉस को बचाते हो तो आप खुद ब खुद प्रॉफिट मे आ जाओगे और शेयर बाजार में प्रॉफिट कमाने के लिए सपोर्ट और Resistance को सेट करना जरूर आना चाहिए तो चलिए शुरू करते हैं आज का टॉपिक ट्रेडिंग में सपोर्ट और रेजिस्टेंस क्या होता है |Why support and Resistance is Important for Beginners|

नमस्कार दोस्तों!!!

मैं राज आप सभी का फिर से स्वागत करता हूं एक नए पोस्ट पर और विश्वास दिलवाता हूं कि आप यहां से बेहतर सीख के जाएंगे |

शेयर मार्केट का टेक्निकल एनालिसिस करते समय सपोर्ट एंड रेजिस्टेंस लेवल,काफी महत्वपूर्ण होते हैं जो हमेशा आपको एक safe zone में रखते हैं जिनके बारे में मार्केट विशेषज्ञों द्वारा माना जाता है कि जब प्राइस इस लेवल पर पहुंचेगा तो शेयर का प्राइस रूक जाता है और प्राइस रिवर्स हो जाता है। क्योंकि चार्ट पर ऐसा कई बार देखने को मिलता है इसलिए इसकी पहचान करने में मदद मिलती है| 

The Support

चाहे जगह कोई भी हो सपोर्ट का मतलब होता है सहारा देना इसलिए सपोर्ट लेवल वह लेवल माना गया है जहाँ से स्टॉक्स के प्राइस के ग्राफ के उपर और नीचे की और गिरने की आशंका बहुत कम होती है|शेयर का प्राइस गिरने की वजह से उसकी मांग या डिमांड बढ जाती है।

जैसे ही शेयर का मूल्य सपोर्ट लेवल तक गिरता है, तो उसके मूल्य में उछाल की संभावना बढ़ जाती है। जब भी किसी शेयर का प्राइस एक सपोर्ट लेवल  को हाई वॉल्यूम के साथ तोड़ता है। तब ही वह अगले सपोर्ट लेवल की तरफ तेजी से गिरता है, और उस समय सपोर्ट लेवल टूट जाता है।

सपोर्ट लेवल जो है हमेशा बाजार मूल्य से कम होता है। जब भी प्राइस सपोर्ट पॉइंट से 1/8 की संख्या से नीचे आकर बंद हो, तो सपोर्ट लेवल टूट लिया माना जाता है |

The Resistance

 Resistance का हिन्दी अर्थ ही स्थिरता या रोक होता है यानी Resistance एक ऐसी activity है जो प्राइस को एक सुनिश्चित पॉइन्ट से और ऊपर बढ़ने से रोकती है। स्टॉक चार्ट पर कई पॉइंट देखने को मिलते हैं जहाँ से स्टॉक प्राइस पहले भी उस पॉइंट को छूकर रिवर्स हो चुका होता है। जब प्राइस Resistance level पर पहुंच जाता है, तब स्टॉक traders के द्वारा सप्लाई औऱ बढ़ा दी जाती है। 

 जिससे होता ये है कि शेयर की कीमत के गिरने की आशंका बढ़ जाती है। रेजिस्टेंस लेवल जो है हमेशा बाजार मूल्य से ऊपर होता है। जब भी किसी शेयर का मूल्य उच्च वॉल्यूम के साथ उस सुनिश्चित resistance level को तोड़ता है तो दूसरी प्राइस लेवल लाइन एक्शन मे आ जाती है और शेयर को अगले रेजिस्टेंस की तरफ ले जाती है।

जब प्राइस जो है रेजिस्टेंस लेवल से  1/8 पॉइंट के उछाल के ऊपर बंद हो, तो रेजिस्टेंस लेवल को टूटा मान लिया जाता है। 

यहां ये ध्यान रहे कि सपोर्ट एंड रेजिस्टेंस नंबर वास्तविक नंबर नहीं होते कई बार सपोर्ट एंड रेजिस्टेंस नंबर टूट जाते हैं लेकिन कुछ ही समय पश्चात पता चलता है कि प्राइस ने सिर्फ उनको छुआ है जब इसके बाद मार्केट ऊपर की तरफ चढ़ता है तो पुलबैक भी देखने को मिलता है और जब मार्केट नीचे की तरफ आता है तब रेजिस्टेंस एक तरह से सपोर्ट का काम करता है

आप पढ़ रहे हैं ट्रेडिंग में सपोर्ट और रेजिस्टेंस क्या होता है |Why support and Resistance is Important for Beginners|

Support और Resistance की क्या उपयोगिता है :-

SUPPORT AND RESISTANCE की उपयोगिता का पता हम तीन तरीकों से कर सकते हैं :-

Entry Point की जानकारी प्राप्त होती है

किसी ट्रेड में कब प्रवेश करना है, यानी शेयर को किस मूल्य पर खरीदना है |

Exit Point की जानकारी प्राप्त होती है

किसी ट्रेड में कब सेल करना है या स्टॉप लॉस बुक करना है,

Target

– किसी ट्रेड से कितना लाभ- Profit लिया जा सकता है,

रेजिस्टेंस का हिंदी अर्थ होता है – रुकावट, बढ़ने से रोकना,

और स्टॉक मार्केट में का हिंदी अर्थ होता है – रुकावट, बढ़ने से रोकना,

Support और resistance को पहचानने के 4 तरीके निम्नलिखित हैं:-
  • चार्ट पर डाटा पॉइंट्स को पॉइंट करना
  • चार्ट पर शो होने वाले सभी चार प्राइस एक्शन के जोन को पहचानना
  • सभी प्राइस एक्शन जोन को एक सीधी लाइन में मिलाना
  • इसके पश्चात कम से कम 3 हॉरिजॉन्टल लाइन खीचना

मैं आशा करता हूं ये पोस्ट आपके लिए फायदेमंद रही होगी |

शेयर बाजार के बारे मे अगर आप और गहराई से जानना चाहते हैं तो ये books जरूर पढ़ें :-

Stock Investing Mastermind

One Up On Wall Street

भारत में नंबर 1 शेयर बाजार कौन है?

National Stock Exchange (NSE) भारत का no.1 शेयर बाजार है |

दिन में शेयर बाजार में कितना पैसा कमा सकते हैं?

आप एक दिन में कितना कमा सकते हो ये तय नहीं है आप सामान्यतः 1000 से 20000 तक भी कमा सकते हो |

रेजिस्टेंस का फार्मूला क्या होता है?

रेजिस्टेंस का फार्मूला “R = V/I” यह है, जिसमे R मतलब Resistance, V याने वोल्टेज और I का मतलब धारा (Amperes, A) होता है।

ट्रेडिंग में कितने रुझान होते हैं?

Upward Trend ,Downward Trend or Sideways Trend

2023 में कौन से शेयर खरीदना चाहिए?

Tata motors,Reliance, HDFC

रेजिस्टेंस को हिंदी में क्या कहते हैं?

प्रतिरोध |

कौन सा ट्रेडिंग ऐप सबसे सस्ता है?

upstox सबसे सस्ता और Zerodha सबसे लोकप्रिय ट्रेडिंग App है |

भारत का सबसे बड़ा बैंक कौन सा है

SBI (State Bank of India)

Related Post

ऑप्शन ट्रेडिंग क्या होती है |Why Option Trading is Important |

एंजेल वन | Best Broker in India

Best Tips For Traders In Hindi | शेयर बाजार के लिए टॉप 30 टिप्स |

शेयर मार्केट में कितने ट्रेडिंग ट्रेंड हैं | Important Trading Trends in Share Market

Is Stock Market a Gambling | क्या शेयर बाजार एक जुआ है |

शेयर मार्केट किंग :: राकेश झुनझुनवाला

Best Perimeter For Analyzing a Compnay In Hindi|

Top 50 Interesting Facts About Share Market In Hindi

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Scroll to Top