Best Perimeter For Analyzing a Compnay In Hindi|

यह पोस्ट आपको बताएगी की कौन सी कंपनी आपके लिए बेहतर है कौन सी नहीं इसलिए इस पोस्ट Best Perimeter For Analyzing a Compnay को अंत तक अवश्य पढ़ें

नमस्कार दोस्तों!!!

मैं DR Thakur एक बार फिर से आप सभी का हार्दिक स्वागत करता हूं मेरे इस नए ब्लॉग पोस्ट पर |

और मैं यकीन करता हूं कि इस पोस्ट के अंत तक आप किसी भी कंपनी का विश्लेषण करना सीख जाएंगे जो आपको बेहतर शेयर चुनने में काफी मदद करेगा |

तो चलिए शुरू करते हैं आज का टॉपिक :

शेयर बाजार में किसी भी कंपनी के बारे मे जानने के यू तो बहुत से मापदण्ड होते हैं लेकिन मैं जिन 10 मापदंडों के बारे मे आपको बताने जा रहा हूं उन्हें जानने के बाद यकीन मानिये आप कभी भी शेयर बाजार में नुकसान नहीं उठाएंगे :-

Table of Contents

1. PB RATIO : – (Price to Book )
PB Ratio क्या होता है

PB Ratio में P का मतलब एक कम्पनी के शेयर की Current Market Price से होता है और B का मतलब उस कम्पनी की Book Value से होता है मतलब की दोस्तों PB Ratio एक कम्पनी के शेयर की Current Market Price और उस कम्पनी की Book Value में Relation को दर्शाता है |

PB Ratio से हमें पता चलता है कि एक कम्पनी का शेयर Market में अपनी Book Value से या Assets Value से कितने ज्यादा व कितने कम प्राइस पर ट्रेड कर रहा है अगर किसी कम्पनी का PB Ratio (Price to Book Value Ratio) 2 है तो उसका मतलब होता है की उस कम्पनी का शेयर Market में अपनी Book Value से या Assets Value से 2 गुना प्राइस पर ट्रेड कर रहा है |

PB Ratio क्यों जरूरी है :-

PB Ratio से हमें पता चलता है कि Market में एक कम्पनी का शेयर अपनी Book Value से या Assets Value से कितने ज्यादा व कितने कम प्राइस पर ट्रेड कर रहा है |
PB Ratio की Help से हम एक ही Industry की दो कम्पनीज के बिच तुलना करके यह जान सकते है की किस कम्पनी का शेयर हमें Book Value के आधार पर सस्ता मिल रहा है और किस कम्पनी का शेयर हमें Book Value के आधार पर महंगा मिल रहा है |

Best कंपनियों का PB Ratio :-
  • Reliance
  • Tata Consultancy
  • Nestle India
  • Infosys
  • HDFC
  • Asian Paints
  • Shree Cements
2. P/E RATIO. ( Price to Earn)
PE Ratio क्या होता है :-

PE Ratio का मतलब होता है ‘Price to Earning Ratio’ यह एक फाइनेंसियल अनुपात होता है जो यह बताता है कि आपको किसी कंपनी में 1 रुपये कमाने के लिए कितना प्राइस देना पड़ता है. इस अनुपात को देखकर आप पता लगा सकते हैं कि एक ही सेक्टर की दो कंपनियों में से आपको किसमें पैसा निवेश करना चाहिए.

किसी कंपनी का PE Ratio कैसे निकालते हैं :-

PE Ratio = Current market price of one share / Earning per share

कितना PE अच्छा माना जाता है :-

PE Ratio जितना कम होता है उतना ही बेहतर माना जाता है |

एक अच्छा PE 20-25 से कम होना चाहिए |

20 या उससे कम का PE एक आदर्श PE माना जाता है |

टॉप कंपनियों का PE Ratio :-
  • Reliance
  • Tata Consultancy
  • Nestle India
  • Asian paints
  • Infosys
  • HDFC Bank
3. ROE. (Return On Equity)
ROE क्या होता है :-

ROE को रिटर्न ऑन इक्विटी कहा जाता है जो कि एक वित्तीय प्रदर्शन की माप होती है। बहुत से लोगों के मन में यह सवाल आ रहा होगा कि रिटर्न ऑन इक्विटी से आखिर होता क्या है? तो आपकी जानकारी के लिए हम बता दें कि रिटर्न ऑन इक्विटी ही शेरहोल्डर्स की इक्विटी और उनकी इनकम को अलग-अलग करने के लिए उपयोग में लाई जाती है। इसका मतलब यह है कि रिटर्न ऑन इक्विटी से यह पता चलता है कि किसी भी शेयर होल्डर के जरिये कोई कंपनी कितना रिटर्न प्राप्त कर रही है।

कितना ROE बेहतर माना जाता है :-

ROE जितना ज्यादा हो उतना बेहतर माना जाता है लेकिन सामन्यतः 20% से ज्यादा ROE बेहतर माना जाता है |

ROE कैसे ज्ञात करते हैं :-

रिटर्न ऑन इक्विटी = नेट इनकम / शेरहोल्डर्स फंड

बेस्ट ROE देने वाली कंपनियां :-
  • EKI Energy. 168 %
  • Ksolves India. 117.7%
  • Nestle India. 66.70%
  • Coal India. 47.54%
  • Page Industries. 46.32%
  • TCS. 38.43%
4. ROCE (Return on Capital Employed)
ROCE क्या होता है :-

ROCE का Full Form होता है Return on Capital Employed जो एक Financial Ratio है। जिससे हमें किसी भी कंपनी के बिजनेस में लगे सारे (Capital) पैसों के बदले कंपनी कितना रिटर्न जनरेटर कर रही है इसकी जानकारी मिलती है।27

ROCE कैसे निकालते हैं :-

[ ROCE = EBIT / Capital Employed ]

कितना ROCE बेहतर माना जाता है :-

ROCE 10 से उपर होना चाहिए

बाकी 20 से उपर का ROCE बेहतर माना जाता है |

कौन सी कम्पनिया अच्छा ROCE देती हैं :-

इस सूची में 05 सालों का रिटर्न पर्सेन्ट बताया गया है :-

  • Vedanta. 20.39%
  • Angel one. 30.42%
  • EKI Energy. 223.43%
  • Manali Petrochem. 39.01%
  • Kwality Pharma. 50.06%
5. Debt / LIABILITIES
Debt या Liabilities होता क्या है :-

Liabilities का हिंदी meaning दायित्व, कर्जा या ऋण होता है| जो पैसा आपको किसी दुसरे पार्टी को देना होता है तो उसे liabilities कहा जाता है| किसी भी company के द्वारा किसी अन्य company या organisation को दिया जाने वाला राशी या मूल्य Liabilities कहलाता है| Liabilities का मतलब होता है अपने पॉकेट से पैसा को किसी दुसरे के पॉकेट में या account में send करना

Debt में डूबी हुई कंपनियां :-
  • Vedanta
  • TVS Motor
  • Adani Power
  • Bajaj finserv
  • Turbo & Larsen
6. CAGR. (Compounded Annual Growth Rate)
CAGR क्या होता है :-

तो,

CAGR का मतलब एक ऐसा रेट (RATE), जो हमें बताता है कि हमारा इन्वेस्टमेंट हर साल (ANNUALY)औसत रूप से कितने प्रतिशत से COMPOUNDING रुप से बिकसित (GROW) हो रहा है,

कुछ और ध्यान दें वाली बात ये है की –

CAGR एक दर (RATE) है, और ये हमेशा प्रतिशत में ही लिखा जाता है,
और ये दो या दो से अधिक वर्षो पर मिलने वाले कुल लाभ का वार्षिक (ANNUAL COMPOUND) का AVERAGE RATEहोता है,
निवेश पर मिलने वाले लाभ को CALCULATE करने के लिए CAGR एक बहुत महत्वपूर्ण CONCEPT है, जो किसी भी LONG TERM इन्वेस्टमेंट पर मिलने वाले कुल लाभ को इस तरीके से बताता है, जिस से हमें पता चलता है कि वास्तव में हमें उस इन्वेस्टमेंट पर कितने प्रतिशत का COMPOUNDING GROWTH मिला,

CAGR कैसे निकालते हैं :-

सामान्य सीएजीआर सूत्र (CAGR Formula) है-

CAGR = [EV/BV] (1/n) – 1

EV का मतलब निवेश का अंतिम मूल्य (End Value) है

BV का मतलब निवेश का शुरुआती मूल्य (Beginning Value) है


n का अर्थ है महीनों/वर्षों में निवेश अवधि की संख्या

सबसे ज्यादा CAGR देने वाली कंपनियां :-
  • Page Industries
  • Tata Elxsi
  • Kama Holdings
  • Paushak
  • Solar Industries
7. CASA (Current Account And Saving Account)
CASA क्या होता है :-

CASA करंट और सेविंग अकाउंट का संक्षिप्त नाम है, जो आमतौर पर पश्चिम एशिया और दक्षिण-पूर्व एशिया में बैंकिंग उद्योग में उपयोग किया जाता है। बैंक आमतौर पर अपने अधिकांश धन विभिन्न प्रकार की जमा योजनाओं जैसे चालू खातों, बचत खातों और सावधि जमाओं से प्राप्त करते हैं।
CASA जमा वह राशि है जो बैंक ग्राहकों के चालू और बचत खातों में जमा हो जाती है। बैंक चालू खातों में जमा राशि के लिए बहुत कम या बिना ब्याज का भुगतान करता है जबकि बचत खातों में जमा राशि पर थोड़ी अधिक ब्याज दर प्राप्त होती है। यह बैंकों के लिए धन का सबसे सस्ता और प्रमुख स्रोत है। इस फंड स्रोत का उपयोग होम लोन, पर्सनल लोन आदि को वितरित करने के लिए किया जाता है।

किसी भी बैंक के लिए CASA क्यों जरूरी है :-
CASA कैसे निकालते हैं :-

CASA Ratio = CASA Deposits ÷ Total Deposits.

8. CASH CONVERSION CYCLE
CCC होता क्या है :-

Cash cycle Ratio यानि आपने जो cash लगाया है business मे वो कितने दिन मे वापिस मिल रहा है? जेसे की अगर आपने 5000 का कपड़ा लिया ओर ओर उसको 10 दिन मे सील दिया ओर बेचने निकले ओर 20 दिन मे पूरा का पूरा माल बेच दिया तो 10 मे सिला ओर 20 दिन मे बेच सिया यानि आपने 30 मे सारे पैसे वापिस मिल गए। तो आपका cash cycle ratio 30 दिन है तो जीना कम टाइम होगा वो कंपनी के लिए उतना अच्छा रहता है। किसी कंपनी का ये cycle negative होता है यानि -20 दिन।

यानि वो कंपनी बहुत advance मे काम करती है जेसे की HUL ( Hindustan unilever limited) वो advance मे पैसे लेती है ओर खुद अपने पैसे जिससे माल खरीदा उससे उधर लेती है 20 दिन का ओर किसिका ओदर लेती है तो 10 दिन एडवांस मे पेमेंट लेती है तो वो जिसके पैसे नही दिये उससे पूरा process करके माल बेच कर वो पैसे वापिस करती है जिससे माल खरीदा। ओर बीच का प्रॉफ़िट earn करती है। अब देखे तो इसमे कंपनी का कुछ नही गया। इसलिए नेगेटिव ratio आया।

Cash cycle Ratio यानि आपने जो cash लगाया है business मे वो कितने दिन मे वापिस मिल रहा है? जेसे की अगर आपने 5000 का कपड़ा लिया ओर ओर उसको 10 दिन मे सील दिया ओर बेचने निकले ओर 20 दिन मे पूरा का पूरा माल बेच दिया तो 10 मे सिला ओर 20 दिन मे बेच सिया यानि आपने 30 मे सारे पैसे वापिस मिल गए। तो आपका cash cycle ratio 30 दिन है तो जीना कम टाइम होगा वो कंपनी के लिए उतना अच्छा रहता है।

CCC कैसे निकालते हैं :-

Cash Conversion Cycle = Days inventory outstanding + Days sales outstanding – days payables outstanding

9. BOOK VALUE
Book Value क्या होती है :-

कंपनी के खातों में वह वैल्यू जो की किसी कंपनी को यदि बेचा जाए तो उसकी संपत्तियों से देनदारियां घटा कर प्रति शेयर कितना भुगतान प्राप्त होगा उसे Book Value कहते हैं। किसी शेयर की बुक वैल्यू उसकी शेयर कैपिटल और जनरल रिज़र्व के जोड़ को कुल शेयरों की संख्या से विभाजित करके भी प्राप्त किया जा सकता है।

Book Value कैसे निकालते हैं :-

बुक वैल्यू = फिजकल एसेट – लायबिलिटी/कंपनी के कुल शेयर

टॉप कंपनियां जिनकी बुक वैल्यू बेहतर है :-
  • MRF. 34,209 ₹
  • Shree Cements. 4786.88₹
  • Maruti Suzuki. 1998.98₹
  • UltraTech Cement. 1833.54₹
  • Tata Steel. 1103.42₹
10. PROMOTER HOLDING
प्रमोटर होल्डिंग क्या होती है :

किसी भी कंपनी के मालिक की उस कंपनी में हिस्सेदारी साथ ही अन्य शेयरधारक,govt, और विदेशी निवेशकों की हिस्सेदारी को प्रमोटर होल्डिंग कहते हैं |

जिस भी कंपनी की प्रमोटर होल्डिंग 50% से अधिक होती है उसे हम एक स्थिर और विश्वसनीय कंपनी की श्रेणी में रख सकते हैं |

प्रमोटर होल्डिंग का क्या महत्व है :-

किसी भी कंपनी में उसके मालिक की जितनी ज्यादा प्रतिशत में होल्डिंग होती है वो कंपनी उतनी ज्यादा स्थायी और दूरदर्शी दिखाई पड़ती है |

इसलिए किसी भी कंपनी में निवेश से पहले प्रमोटर होल्डिंग भी अवश्य देखें जो सामन्यतः 50 % से उपर बेहतर मानी जाती है |

Top 05 बड़ी कंपनियों की प्रमोटर होल्डिंग :-
  • Relaince indusrty. 50.01%
  • Tata Consultancy. 72.30%
  • Asian Paints. 52.63%
  • Adani Group. 69.70%
  • Infosys. 15.17%

उम्मीद करता हूं आपको ये पोस्ट Best Perimeter For Analyzing a Compnay In Hindi बेहद पसंद आयी होगी |

अगर पसंद आयी तो दोस्तों तक जरूर पहुंचाए |

Demat Account open करने के लिए बेस्ट ब्रोकर :-

https://zerodha.com/

Angel one

निफ्टी 50 में कितने सेक्टर होते हैं?

वर्तमान मे निफ्टी 50 में 13 सेक्टर के स्टॉक्स चुने जाते हैं |

निफ्टी 50 के सभी क्षेत्रों के नाम?

वित्तीय सेवाएं 37.40%
सूचान प्रौद्योगिकी 14.72% 3. तेल, गैस और उपभोज्य ईंधन 12.27% 4. तेजी से बढ़ते उपभोक्ता 9.35% 5. ऑटोमोबाइल और ऑटो घटक 5.60% 6. धातु और खनन 3.17% 7. स्वास्थ्य देखभाल 3.74% 8. उपभोक्ता के लिए टिकाऊ वस्तुएँ 2.97% 9. निर्माण 3.34% 10. दूरसंचार 2.43% 11शक्ति 2.06% 12. निर्माण सामग्री 1.87% 13. सेवाएं 0.59%

निफ्टी इंडेक्स कितने प्रकार के होते हैं?

1. NIFTY 50
2. Nifty Next 50
3. Nifty Bank
4. Nifty IT

अमेरिकी शेयर बाजार की कीमत कितनी है?

$40,511,838.8 मिलियन (31 दिसंबर, 2022)

शेयर मार्केट क्रैश कब हुआ था?

2008 में |
जब शेयर बाजार में 52% गिरावट आयी थी

दुनिया का सबसे सस्ता शेयर कौन सा है?

Devhari Exports 0.62 ₹ का 01 शेयर | इस कंपनी की मार्केट कैप 4000 करोड़ के आसपास है |

दुनिया में कितने शेयर बाजार हैं?

दुनिया में 60 से अधिक देशों में स्टॉक एक्सचेंज मौजूद है जबकि कुछ देश ऐसे भी हैं जहां शेयर मार्केट बैन है |

देश जहां स्टॉक मार्केट बैन है?

अफगानिस्तान
नॉर्थ कोरिया
सन Marino
कुवैत

शुरुआती लोगों के लिए कौन सा ट्रेडिंग सबसे अच्छा है?

शुरुआती लोगों के लिए स्विंग ट्रेडिंग सबसे बेहतर मानी जाती है |

नंबर वन ट्रेडिंग ऐप कौन सा है?

Zerodha
60 लाख से अधिक सक्रिय यूजर के साथ पहले स्थान पर है |

भविष्य के लिए कौन सा शेयर खरीदे?

wipro,TCS और Infosys जैसी कंपनिया भविष्य निवेश के लिए सबसे सुरक्षित मानी जा रही हैं|

शेयर बाजार से संबंधित अन्य पोस्ट भी पढ़ें :

Is Stock Market a Gambling | क्या शेयर बाजार एक जुआ है |

NSE और BSE क्या है?

Intraday ट्रेडिंग ओर Delivery ट्रेडिंग क्या होती है?

एंजेल वन | Best Broker in India

Top 50 Interesting Facts About Share Market In Hindi

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Scroll to Top