Mutual fund क्या होते हैं | Best 10 Mutual Funds For Long Term

अगर आप भी अपने पैसे सेव कर अपने भविष्य के बारे मे सोचने वालों में से हो तो ये पोस्ट आपके लिए ही है जिसमें आप जानने वाले हैं Mutual fund क्या होते हैं | Best 10 Mutual Funds For Long Term

नमस्कार दोस्तों!!!!!!

मैं Raaz आप सभी का अपने इस नए ब्लॉग पोस्ट पर हार्दिक स्वागत करता हूं और विश्वास दिलाता हूं कि आप जिन mutual funds के बारे मे जानना चाहते हैं उनके बारे मे इस पोस्ट में जरूर जान पाएंगे…..

तो चलिए शुरू करते हैं Mutual fund क्या होते हैं | Best 10 Mutual Funds For Long Term

Raaz Thakur Post Writer

Table of Contents

Mutual Fund क्या होते हैं :-

Mutual fund को हम सरल भाषा मे सामूहिक निवेश भी कह सकते हैं |

Mutual fund में कई लोगों का पैसा एक जगह इकट्ठा किया जाता है तथा जिसे एक फंड मैनेजर कंट्रोल करता है वहीं mutual fund का उद्देश्य अपने निवेशकों को अच्छा रिटर्न देना होता है |

निवेशकों द्वारा एकत्रित सारा पैसा फण्ड मैनेजर को कई सारे विकल्प देता है की वो अपने निवेशकों का पैसा अलग-अलग जगह इनवेस्ट कर उसका सही इस्तेमाल करे।

फंड मैनेजर इस पैसे को स्टॉक मार्केट, बॉन्ड्स, मनी मार्केट इंस्ट्रूमेंट आदि में निवेश करता है और अपने mutual fund निवेशकों को बेहतर रिटर्न उपलब्ध करवाता है |

भारत मे mutual Fund की शुरुआत कब हुई :–

भारत में mutual fund की शुरुआत 1964 में भारत सरकार द्वारा यूनिट ट्रस्ट ऑफ इंडिया की स्थापना के साथ की गई।

Mutual fund कितने प्रकार के होते हैं :–

1.इक्विटी फंड :‐


इक्विटी फंड एक ऐसा म्युचुअल फंड होता है जो स्टॉक मार्केट में मुख्य रूप से निवेश करता है।इक्विटी फंड को हम स्टॉक फंड के नाम से भी जानते हैं। स्टॉक म्युचुअल फंड में निवेश मुख्य रूप से कंपनी के प्रत्येक एनालिसिस करने के बाद ही किया जाता है |

2. डेट फंड :–

इक्विटी म्यूचुअल में जहां हम फंड्स को पब्लिक लिस्टेड कंपनियों में invest करते हैं, वहीं डेट फंड्स को हम सरकारी और कंपनियों की फिक्स-इनकम सिक्योरिटीज के अंदर निवेश करते हैं।

इसमे मुख्यतः कॉर्पोरेट बॉण्ड, सरकारी सिक्योरिटीज, ट्रेजरी बिल, इत्यादि शामिल होते हैं। जब आप डेट फंड को खरीदते हैं तो आप उस संबधित संस्था को लोन देते हैं।

सरकार और प्राइवेट कंपनियां अक्सर लोन पाने के लिए बिल और बॉन्ड जारी करती हैं जिसे हम डेट फंड के रूप मे जानते हैं |

3. बैलेंस अथवा हाइब्रिड फंड :–

बैलेंस फंड को हाइब्रिड फंड के नाम से भी जाना जाता है। यह फंड कॉमन स्टॉक, बॉन्ड और कम समय के लिए प्रयोग किया जाने वाला बॉन्ड होता है।

बैलेंस फंड में सामान्यत बाकी फंड के मुकाबले जोखिम कम होता है और अधिकांश निवेश की गई पूंजी की सुरक्षा की गारंटी होती है। इसलिए हम कह सकते हैं कि यह बैलेंस फंड काफी लाभदायक है।

इसके कुछ उदाहरण हैं:–एग्रेसिव बैलेंस फंड, कंजरवेटिव बैलेंस फंड, पेंशन फंड, चाइल्ड प्लान|
गिल्ट फंड

4. मनी मार्केट फंड :–

मनी मार्केट फंड कम समय के लिए फिक्स्ड आय प्रतिभूतियों जैसे गवर्नमेंट बॉन्ड, ट्रेजरी बिल और वाणिज्यिक पत्र इत्यादि में निवेश करते हैं।

ये भी एक सुरक्षित निवेश माना जाता हैं, परंतु इसमें बाकी म्यूचुअल फंड्स के मुकाबले में थोड़ा कम रिटर्न मिलता है।

यह फंड एक तो सुरक्षित फंड है,तथा मुख्यतः उन लोगों के लिए है जो कि जल्दी निवेश का फायदा चाहते हैं।

5. लिक्विड फंड :–

तरल फंड के अंतर्गत पैसा मुख्य रुप से कम अवधि के साधनों में निवेश किया जाता है। उदाहरण के लिए टी बिलों, सीपी आदि में। यह फंड कम समय मे बेहतर रिटर्न देने के लिए जाना जाता है।

इस फंड की सहायता से ज्यादा से ज्यादा फायदा प्राप्त करने का प्रयास किया जाता है। यह फंड उन कंपनियों में निवेश करता है जो बाजार में अच्छा ग्रोथ करती हैं लेकिन इसके साथ-साथ इस फंड में जोखिम भी ज्यादा होता है।

एक अच्छे mutual fund का चुनाव कैसे करें :–
अपना लक्ष्य निर्धारित करें :–

किसी भी mutual फंड में निवेश करने की सोच रहे हैं तो उससे पहले अपना लक्ष्य अवश्य निर्धारित करें कि आप कितने समय के लिए उस mutual fund में बने रह सकते हैं और आप उससे कितने रिटर्न की उम्मीद रखते हैं |

अपनी रिस्क क्षमता पहचाने :–

Mutual fund में निवेश करने से पहले यह अवश्य देखे कि आप कितना रिस्क लेने की क्षमता रखते हैं यदि आप रिस्क ले सकते हैं तो अवश्य small cap funds में निवेश करें जिसमें हाई रिटर्न की संभावना होती है लेकिन उसमे रिस्क भी उतना ही होता है |

अपने निवेश की समयावधि निर्धारित करें :–

Mutual Fund में निवेश करते समय यह अवश्य ध्यान रखें कि आप कितने समय के लिए निवेश कर रहे हैं वो अवधि 5 साल, 10 साल या 20 साल भी हो सकती है जितने लंबे समय के लिए आप निवेश करते हैं उतना ही बेहतर रिटर्न मिलने की संभावना बनती है |

फंड का पिछला प्रदर्शन जरूर देखें :–

किसी भी फंड में निवेश करने से पहले उसका पिछला ट्रैक रिकॉर्ड अवश्य देखें कि फंड पिछले कुछ समय से मार्केट में कैसा प्रदर्शन कर रहा है |ये एनालिसिस आपको बेहतर फंड का चुनाव करने में मदद करता है |

फंड की फीस और चार्ज जरूर चेक कर लें :–

किसी भी फंड में निवेश करने से पहले उसकी फीस और अन्य charges जरूर देखें क्यूंकि प्रत्येक फंड आपसे निवेश के लिए कुछ Fees और चार्ज लेते हैं |

इसलिए उन फीस औऱ चार्ज को अन्य फंड के साथ तुलना करके अवश्य देखें कि कहीं आपको ज्यादा चार्ज तो नहीं करना पड़ रहा |

फंड मैनेजर का अनुभव अवश्य देखें :–

किसी भी फंड में निवेश करने से पहले ये अवश्य देखें कि उस फंड की देखभाल करने वाले फंड मैनेजर का इस क्षेत्र मे अनुभव कितना है

क्यूंकि जितने अनुभवी मैनेजर के हाथ मे आप अपना पैसा देंगे उतना ही आपके पैसे का सही इस्तेमाल होने के अवसर रहते है और उतना ही बेहतर रिटर्न मिलने की उम्मीद होती है |

फंड की रेटिंग देखें :

Mutual फंड की रेटिंग अवश्य देखें क्योंकि यह रेटिंग उस फंड की पास्ट परफॉर्मेंस के आधार पर दी गई होती है।

भारत में कुछ विश्वसनीय एजेंसीयां है जैसे CRISIL, ICRA, Morning Star, Value research जो म्यूच्यूअल फंड्स को वास्तविक रेटिंग देती है।

इसलिये अगर आप म्यूच्यूअल फंड की रेटिंग पर थोड़ा सा ध्यान देकर इन्वेस्ट करे तो आप एक बेहतर और फायदेमंद म्यूच्यूअल फंड स्कीम का चुनाव कर सकते हैं और आने वाले भविष्य में अच्छा लाभ कमा सकते है।

फंड की उम्र भी जरूर देखें :–

किसी भी फंड में निवेश करने से पहले उस फंड की उम्र अवश्य देखें यानी फंड कितना पुराना है |

फंड जितना पुराना होगा हमारे लिए उसका उतना ही सटीक डाटा उपलब्ध होगा तो एक निवेशक के नाते हमारे लिए बेहतर माना जाएगा |

यदि फंड की उम्र 5 साल से कम है तो ऐसे फंड पर रिस्क कम लें वहीं यदि फंड की उम्र 10 साल से अधिक है तो आप उसके पिछले प्रदर्शन को देखते हुए उसका चुनाव कर सकते हैं |

फंड की बाकी फंड से तुलना अवश्य करें :–

कोई भी फंड चुनने से पहले उस फंड की बाकी फंड से तुलना अवश्य करें |तुलना करते समय निम्न बातों पर ध्यान अवश्य दें :–

  • फंड कितना पुराना है |
  • फंड ने पिछले 10 सालों में बाकी फंड से बेहतर प्रदर्शन किया हो |
  • फंड में इनवेस्टर बाकी फंड के मुकाबले ज्यादा हो जो फंड को ज्यादा विश्वसनीय बनाता है |
  • Fund की पॉलिसी बाकी फंड के मुकाबले ज्यादा clear और simple हो |
Mutual Fund में निवेश करने के कितने तरीके हैं :–

म्‍यूचुअल फंड में निवेश करने के दो तरीके हैं:–

एकमुश्‍त (lumpsum) :–

एकमुश्त या लमसम में निवेशक इकट्ठा पैसा निवेश करता है यानी जितना भी पैसा आप निवेश करना चाहते हैं चाहे वो 50000 हो या 5 लाख आप सारा पैसा इकट्ठा ही जमा कर देते हैं या तरीका यूँ तो बेहतर है पर इसके लिए आपके पास इकट्ठा पैसा होना जरूरी है |

SIP यानी सिस्‍टमेटिक इन्‍वेस्‍टमेंट प्‍लान :–

इसमें आप हर महीने एक निश्चित पैसा निवेश करते हैं . SIP के जरिए आप 1000 रुपये से भी निवेश शुरू कर सकते हैं और 10000 भी लगा सकते हैं |

लंबे समय के लिए SIP में निवेश करने से कम्‍पाउंडिग का फायदा मिलता है लेकिन अगर फंड की Net Asset Value बढ़ती है, तो SIP के जगह पर एकमुश्‍त निवेश ज्‍यादा फायदा दे सकता है|

Mutual Fund को कौन रेग्युलेट करता है :–

Mutual fund को SEBI द्वारा नियंत्रित किया जाता है |भारत में म्यूचुअल फंड को भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (SEBI) के द्वारा नियंत्रित किया जाता है और ऐसेट मैनेजमेंट कंपनियों (AMC) द्वारा संचालित किया जाता है।

आप पढ़ रहे हैं Mutual fund क्या होते हैं | Best 10 Mutual Funds For Long Term

Top 10 mutual Fund For long term :‐

इस लिस्ट में मैं आपको उन फंड के बारे मे बताने जा रहा हूं जिन्होंने पिछले कुछ समय मे बेहतर प्रदर्शन किया है और आने वाले समय मे और बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद की जा सकती है :–

1.Axis Bluechip Fund

Axis bluechip fund एक सुरक्षित और अच्छा रिटर्न देने वाला mutual fund है | इस फंड की लोकप्रियता को देखते हुए ये फंड एक बेहतर विकल्प माना जाता है |

Axis Bluechip Fund का पिछले सालों का प्रदर्शन को देख कर भी आप इसका चुनाव कर सकते हैं:–

Mutual fund क्या होते हैं | Best 10 Mutual Funds For Long Term
Annualised Return
2.Axis Midcap fund

Axis bluechip की तरह ही Axis Midcap Fund भी नए निवेशकों के लिए एक बेहतर ऑप्शन है इस फंड ने भी बेहतर प्रदर्शन करके दिखाया है जिसे आप नीचे दिए ग्राफ में देख सकते हैं :–

Mutual fund क्या होते हैं | Best 10 Mutual Funds For Long Term
Annualised return
3. Axis Small Cap Fund

Axis small cap फंड 2013 से सक्रिय है और इस फंड ने भी अपने निवेशकों को निराश नहीं किया है, पिछले 05 सालों में इसने 23% का रिटर्न दिया है |

Mutual fund क्या होते हैं | Best 10 Mutual Funds For Long Term
Annualised Return
4. Parag Parikh Flexi cap Fund

Parag Parikh Flexi cap Fund मेरा सबसे पसंदीदा फंड है इस फंड ने कभी भी अपने निवेशकों को निराश नहीं किया है चाहे वो नए इनवेस्टर हो या पुराने |

इस फंड ने पिछले 05,10 और since inception यानी जब से ये fund अस्तित्व में आया है लगभग समान 18% का बेहतरीन और विश्वसनीय रिटर्न दिया है |

Mutual fund क्या होते हैं | Best 10 Mutual Funds For Long Term
वार्षिक रिटर्न
5. Mirae Asset Hybrid Equity Fund

Mirae Asset fund भी एक बेहतर फंड है हालांकि यह अभी नया नया ही मार्केट में आया है यानी इसे अभी 10 सालों से भी कम समय हुआ है लेकिन फिर भी इसने अपने इनवेस्टर को निराश नहीं किया है |

Mutual fund क्या होते हैं | Best 10 Mutual Funds For Long Term
वार्षिक रिटर्न
6. Mirae Asset Large Cap Fund

Mirae का ये फंड ना केवल पुराना है बल्कि एक बेहतर विकल्प भी है नये निवेशकों के लिए |

इस फंड ने भी अपने निवेशकों को निराश नहीं किया है और पिछले 10 सालों में 18% का बेहतर रिटर्न दिया है |

Mutual fund क्या होते हैं | Best 10 Mutual Funds For Long Term
वार्षिक रिटर्न
7. Kotak Emerging Equity Fund

I hope आपने कोटक का नाम अवश्य सुना होगा |कोटक के इस फंड ने भी बेहतर रिटर्न दिया है चाहे आप किसी भी समय फ्रेम को देख लें |

इसलिए यह फंड भी एक विश्वसनीय फंड माना जाता है |

Mutual fund क्या होते हैं | Best 10 Mutual Funds For Long Term
वार्षिक रिटर्न
8. SBI Small Cap Fund

SBI की सेवाओं पर तो शायद ही किसी को संदेह होगा |SBI भारत का सबसे बड़ा बैंक है फिर चाहे आप ग्राहकों के हिसाब से देखो चाहे इसकी शाखाओं के हिसाब से |

भारत मे हर तीसरे शख्स का बैंक अकाउंट SBI में है | वहीं बात करें इसके Small cap fund की तो यह एक विश्वसनीय फंड माना जाता है क्योंकि इसने अपनी शुरुआत से आज तक 20% का जबरदस्त रिटर्न दिया है |

देश का सबसे बड़ा सरकारी बैंक कहे जाने वाले SBI का बाजार पूंजीकरण 529,898.83 करोड़ रुपये है.

Mutual fund क्या होते हैं | Best 10 Mutual Funds For Long Term
वार्षिक रिटर्न
9. SBI Equity Hybrid Fund

SBI Equity Hybrid Fund भी आपके लिए एक विश्वसनीय और लाभकारी ऑप्शन हो सकता है |यह फंड भी पिछले कुछ सालों में बेहतर रिटर्न दे चुका है|

10. UTI Flexi Cap Fund

UTI flexi cap फंड को आप ले भी सकते हो और चाहो तो छोड़ भी सकते हो हालांकि इस फंड का मार्केट में उतना नाम ना हो लेकिन इस फंड ने भी अपने इनवेस्टर को निराश नहीं किया है इसलिए आप इसकी तरफ जा सकते हो |

Mutual fund क्या होते हैं | Best 10 Mutual Funds For Long Term
वार्षिक रिटर्न

इस उपरलिखित समस्त डाटा को हमने गूगल से प्राप्त किया है आप भी बेहतर एनालिसिस के लिए इन्हें फॉलो कर सकते हैं :–

Screener

Finology By Pranjal Kamra

1 साल में म्यूचुअल फंड कितना रिटर्न देता है?

सामानतः mutual fund 01 साल में 10% तक रिटर्न देते हैं इसके बावजूद ये इस बात पर निर्भर करता है कि आपने किस mutual fund में पैसा लगाया है |

म्यूच्यूअल फंड का मतलब क्या है?

mutual fund का मतलब होता है कई लोगों के पैसों को एक फंड मैनेजर के अधीन एक जगह इकट्ठा रखना | जिसे शुद्ध हिन्दी मे पारस्परिक निधि भी कहते हैं |

AGIF Fund,Mutual Fund,और Equity Fund का औसत रिटर्न कितना है |

अगर आप बेहतर फंड चुनते हो तो आपको सामान्यत निम्नलिखित रिटर्न मिलता है :–
AGIF Fund 7%
Mutual Fund. 12%
Equity Fund. 12-15%

FD,Saving Account, AGIF और Mutual Fund में कौन बेहतर रिटर्न देता है ?

FD औसतन 7%
Saving Account. 6%
AGIF. 7%
Mutual Fund. 12 %
रिटर्न देता है |

वारेन बफेट ने शेयर मार्केट में कब कदम रखा ?

16 साल की उम्र में दुनिया के सबसे बड़े इनवेस्टर वारेन बफेट ने शेयर मार्केट को अपना प्रोफेशन बना लिया था |

mutual fund में कितने सालों तक निवेश करना चाहिए

आपको बेहतर रिटर्न के लिए कम से कम 10 साल तक mutual fund में निवेश अवश्य करना चाहिए |

Related Post :–

एक्सचेंज ट्रेड फंड (ETF)क्या है |Definition,How Important is ETF|

हर्षद मेहता एक बिग बुल:: स्कैम 1992

टॉप 10 अमीर भारतीय 2023

CAGR Return(चक्रवृद्धि वार्षिक वृद्धि दर)

Demat Account क्या होता है?

Upstox | Best Broker in hindi

शेयर मार्केट की Top 10 कंपनियां

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

Scroll to Top